सभी बाधाएं दूर, शीघ्र शुरू होगा जमरानी बांध का निर्माण: महाराज

सभी बाधाएं दूर, शीघ्र शुरू होगा जमरानी बांध का निर्माण: महाराज

जमरानी बांध परियोजना को सैद्धांतिक सहमति देने पर महाराज ने जताया आभार

जमरानी बांध के लिए पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय भारत सरकार की Standing Committee की बैठक में परियोजना हेतु वांछित National Tiger Conservation Authority (NTCA) की NOC हेतु सैद्धान्तिक सहमति प्रदान की गई है।

उक्त बात की जानकारी देते हुए प्रदेश के सिंचाई मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि उत्तराखण्ड राज्य के जनपद नैनीताल में गोला नदी पर बहुप्रतिक्षित जमरानी बांध परियोजना जिसकी लागत 2584.10 करोड रूपए है को अक्टूबर 2023 में प्रधानमंत्री भारत सरकार की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की कैबिनेट समिति (Cabinet Committee on Economic Affairs) की बैठक में पी०एम०के०एस०वाई० ए०आई०बी०पी० योजना के अन्तर्गत सम्मिलित करने की स्वीकृति प्रदान की गई है।

सिंचाई मंत्री श्री महाराज ने कहा कि प्रस्तावित परियोजना से हल्द्वानी शहर की वर्तमान जनसंख्या लगभग 4.80 लाख एवं वर्ष 2051 हेतु आंकलित जनसंख्या 10.51 लाख को वार्षिक 42.70 एम०सी०एम० पेयजल उपलब्ध कराये जाने एवं उत्तराखण्ड व उत्तर प्रदेश राज्यों के चार जनपदों के 57065 है0 क्षेत्र में अतिरिक्त सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराये जाने का प्राविधान है।

उन्होंने बताया कि माह जनवरी 2024 में परियोजना हेतु National Board of Wild Life (NBWL) पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय भारत सरकार की Standing Committee की बैठक में परियोजना हेतु वांछित National Tiger Conservation Authority (NTCA) की NOC हेतु सैद्धान्तिक सहमति प्रदान की गई है। उक्तानुसार स्वीकृतियां प्राप्त हो जाने से परियोजना निर्माण हेतु सभी औपचारिकताएं पूर्ण हो गई हैं, जिससे बांध को धरातल पर उतारने की कार्यवाही सम्भव हो पायी है।

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड में पर्यटन के क्षेत्र में अपार संभावनाएं पर्यटन: सचिव सचिन क़ुर्बे

श्री महाराज ने परियोजना स्वीकृति हेतु प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, केंद्रीय कैबिनेट मंत्री,
भूपेन्द्र यादव, केंद्रीय रक्षा व पर्यटन राज्य मंत्री अजय भट्ट
को बधाई देते हुए उनका आभार व्यक्त किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here