उत्तराखंड सरकार के सहयोगी श्री महंत इंद्रेश अस्पताल के ई.एस.आई.के 50 करोड़ के बकाया बिलों का नहीं हुवा अभी तक भुगतान कैबिनेट मंत्री जोशी ने जताई चिंता सचिव मुख्यमंत्री आर. मीनाक्षी सुंदरम से की बात… देहरादून।

सरकार के सहयोगी श्री महंत इंद्रेश अस्पताल के ई.एस.आई.के 50 करोड़ के बकाया बिलों का नहीं हुवा अभी तक भुगतान कैबिनेट मंत्री जोशी ने जताई चिंता सचिव मुख्यमंत्री आर. मीनाक्षी सुंदरम से की बात…

देहरादून।

रविवार क़ो कृषि मंत्री गणेश जोशी ने श्री दरबार साहिब में मत्था टेका उन्होंने दरबार साहिब के श्रीमहंत देवेन्द्र दास जी महाराज जी से शिष्टाचार भेंट की व प्रदेश की विकास योजनाओं के बारे में बातचीत की वही उन्होने
ई एस आई सी के लाभार्थियों के उपचार बिलों के बकाया भुगतान 50 करोड़ रुपए पर चिन्ता जाहिर की. उन्होने अस्पताल के बकाया भुगतान की व्यवस्था किये जाने की भी बात कही ओर मौके से ही सचिव मुख्यमंत्री आर मीनाक्षी सुंदरम को फोन कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए

इस दौरान श्री गुुरु राम राय विश्वविद्यालय की ओर से जैविक खेती पर चलाए जा रहे कार्यक्रमों व उत्तराखण्ड के समसामयिक विषयों पर दोनों के मध्य विस्तार से चर्चा हुई। विभागीय मंत्री ने श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल को सरकार का मजबूत स्वास्थ्य सहयोगी बताया इस शिष्टाचार भेंट के दौरान राज्य के विकास से जुड़े विभिन्न बिन्दुओं पर विचार विमर्श हुआ। कृषि मंत्री ने कोरोना काल के दौरान श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल के डाॅक्टरों व स्टाफ द्वारा स्वास्थ्य सेवाओं में किये गए कार्यों की सराहना की। श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल के द्वारा आयुष्मान लाभार्थियों को दी जा रही स्वास्थ्य सुविधाओं की भूरी भूरी प्रशंसा की। श्री महाराज जी ने कृषि मंत्री को श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय के कृषि विभाग द्वारा जैविक कृषि एवम् कृषि सम्बन्धित अन्य विषयों पर किए जा रहे शोध एवम् प्रगतिशील कार्यों से अवगत कराया। यूनिवर्सिटी के द्वारा जैविक खेती पर किए जा रहे कार्यों के संदर्भ में राज्य सरकार के कृषि विषेशज्ञों का दल श्रीमहंत देवेंद्र दास जी महाराज से भेंट करेगा.

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड अफवाहों का हिस्सा मत बनिये, ये है मुख्यमंत्री के सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे बयान की पूरी सच्चाई


काबिलेेगौर है कि श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय के अन्तर्गत संचालित कोर्सज एवम् एसजीआरआर एजुकेशन मिशन के अन्तर्गत संचालित पब्लिक स्कूलों द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य किये जा रहे हैं। एसजीआरआर एजुकेशन मिशन दशकों से गुणवत्तापरक शिक्षा रियायती दरों पर प्रदान कर रहा है। कृषि मंत्री ने आशा व्यक्त की कि भविष्य में भी एसजीआरआर एजुकेशन मिशन इसी प्रकार जन हित से जुड़े उल्लेखनीय कार्य करता रहेगा।



उत्तराखंड की ताजा खबरें पढ़ने के लिए हमसे जुड़ें


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here