गंगा को साक्षी मानकर 7 मई को सामूहिक रूप से खटीमा वाले जल समाधी लेगे पुष्कर धामी की हार से है दुखी अब करेंगे ऐसे प्रायश्चित

गंगा को साक्षी मानकर 7 मई को सामूहिक रूप से खटीमा वाले जल समाधी लेगे पुष्कर धामी की हार से है दुखी अब करेंगे ऐसे प्रायश्चित

खटीमा: विधानसभा चुनाव 2022 में भारतीय जनता पार्टी भले ही सत्ता वापस पाने में कामयाब रही। लेकिन मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी अपनी खटीमा सीट से चुनाव भितरघात और षड्यंत्र की वजह से हार गए

जिसका दुख आज भी खटीमा के निवासियों को है। सीएम धामी की हार से दुखी होकर अब खटीमा के ग्रामीणों ने जल समाधि लेने की घोषणा कर दी है। ग्रामीण 7 मई को सांकेतिक रूप से शारदा नहर में जल समाधि लेंगे।

ग्रामीणों ने मंगलवार को एसडीएम बिष्ट को ज्ञापन सौंपा और कहा कि वह सीएम धामी के हारने से काफी दुखी हैं। ग्रामीणों का कहना है कि सीएम धामी का हारना छोटे गांवों के विकास के लिए सबसे बड़ा झटका है। उनकी हार के पीछे झूठ, फरेब, नकारात्मक संदेश और षड्यंत्र है।
ग्रामीणों का मानना है कि सीएम धामी की हार का प्रायश्चित जल समाधि लेकर किया जाएगा। इसीलिए वह गंगा को साक्षी मानकर 7 मई को सामूहिक रूप से 22 पुल खिलड़िया शारदा नहर में जल समाधि लेंगे। गौरतलब है कि इसके लिए ग्रामीणों ने सहयोग की अपील भी की है।

यह भी पढ़ें -  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने विकास भवन, पौड़ी में एन०सी०सी० कैडेट्स व अन्य प्रतिभाशाली स्कूली छात्र-छात्राओं के साथ “क्यों होता है गाँव से पलायन“ विषय पर संवाद कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। इस अवसर पर उन्होंने मेधावी छात्र-छात्राओं को सम्मानित भी किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here