धामी जी के अनुरोध पर : कोटद्वार की खोह नदी में गिरने वाले 9 नाले होंगे टैप, और सीवेज शोधन संयंत्र के निर्माण के लिए 135 करोड़ रुपए हुये स्वीकृति

धामी जी के अनुरोध पर : कोटद्वार की खोह नदी में गिरने वाले 9 नाले होंगे टैप, और सीवेज शोधन संयंत्र के निर्माण के लिए 135 करोड़ रुपए हुये स्वीकृति

 

मुख्यमंत्री धामी के अनुरोध पर
135 करोड़ हुये स्वीकृति,कोटद्वार की खोह नदी में गिरने वाले 9 नाले होंगे टैप

मुख्यमंत्री धामी के अनुरोध पर कोटद्वार खोह नदी की सफाई के काम को मिली मंजूरी,135 करोड़ हुये स्वीकृति,

सीएम धामी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत का इस बात के लिये किया आभार व्यक्त

 

उत्तराखण्ड राज्य को नमामि गंगे परियोजना के तहत् गंगा नदी जल प्रदूषण नियंत्रण के लिए लगभग 135 करोड रूपए की लागत परियोजना को राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन, जल शक्ति मंत्रालय, भारत सरकार की 52 वीं कार्यकारी समिति की बैठक में सैद्धान्तिक स्वीकृति मिली है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी व केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री श्री गजेन्द्र सिंह शेखावत का आभार व्यक्त किया है।

स्वीकृत परियोजना में उत्तराखंड के जनपद पौड़ी गढ़वाल क्षेत्र के कोटद्वार शहर में बहने वाली खोह नदी में गिरने वाले 09 नालों को टैप करने एवं 21 एम.एल.डी. सीवेज शोधन संयंत्र के निर्माण की स्वीकृति हेतु सहमति (लागत- लगभग 135 करोड़) प्रदान की गई है।

खोह नदी कोटद्वार नगर से बहते हुये रामगंगा नदी में मिलती है, जो कि आगे चलकर गंगा नदी की प्रमुख सहायक नदी है। परियोजना के निर्माण से खोह एवं रामगंगा नदी के पारिस्थितिकी तंत्र में तो सुधार होगा ही साथ ही साथ गंगा नदी में दूषित जल का प्रवाह रूकेगा।
श्री जी. अशोक कुमार, महानिदेशक, राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन जल शक्ति मंत्रालय, भारत सरकार की अध्यक्षता में सम्पन्न बैठक में उत्तराखण्ड राज्य से श्री अरविन्द सिंह ह्यांकी, सचिव, पेयजल एवं स्वच्छता, श्री रणवीर सिंह चौहान कार्यक्रम निदेशक एसपीएमजी, उत्तराखंड द्वारा प्रतिभाग किया गया ।

यह भी पढ़ें -  श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल के स्वास्थ्य शिविर में पौड़ी जनपद के सुदूर क्षेत्रों से उमड़े पौड़ीवासी वरिष्ठ न्यूरो सर्जन डॉ. पंकज अरोड़ा ने रोगियों को दिया चिकित्सकीय परामर्श

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here