यूकेपीएससी का दावा : धामी सरकार ने एक साल के कार्यकाल में 6635 भर्ती की हैं, जबकि पिछले 22 सालो के दौरान 6869 भर्तियां ही हुई

धामी के कमाल से युवाओं की चमकी किस्मत ,एक साल में कर डाली 6635 भर्तिया…

साल 2023: अफसरों की भर्ती करने में धामी सरकार में छह गुणा रफ्तार बढ़ी है

साल 2023 : धामी जी ने प्रदेश के विकास के साथ-साथ युवाओं को रोजगार देने में भी बेहतरीन प्रदर्शन किया है पढ़े पूरी रिपोर्ट

धामी राज :नकल माफियाओं का जाल ध्वस्त किया, नकल रोधी कानून बनाया, इस कानून के बाद से परीक्षाओं को और अधिक पारदर्शी व शुचिता के साथ संपन्न कराया जा रहा है

साल 2023 मे न केवल समूह ग की भर्ती बल्कि अधिकारियों की भर्ती के मामले में भी धामी रिकॉर्ड बना डाला

मुख्यमंत्री धामी ने कड़ी चुनौती और अनेक अड़चनों के बावजूद एक साल में साढ़े छह हजार से अधिक अधिकारियों की भर्ती परीक्षा का रिकार्ड बनाया

धामी के निर्देश पर : आयोग ने मई 2024 तक पांच हजार से ज्यादा नए पदों पर भर्ती परीक्षाएं आयोजित करने का लक्ष्य रखा है

बोलता है वोटर : सरकारी नौकरी देने के मामले में धामी सरकार का प्रदर्शन बेहतरीन है

यूकेपीएससी का दावा : धामी सरकार ने एक साल के कार्यकाल में 6635 भर्ती की हैं, जबकि पिछले 22 सालो के दौरान 6869 भर्तियां ही हुई

धामी सरकार ने प्रदेश के विकास के साथ-साथ युवाओं को रोजगार देने में भी बेहतरीन प्रदर्शन किया है। प्रदेश में न केवल समूह ग की भर्ती बल्कि अधिकारियों की भर्ती के मामले में भी मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी सरकार ने रिकॉर्ड कायम किया है। आयोग ने मई 2024 तक पांच हजार से ज्यादा नए पदों पर भर्ती परीक्षाएं आयोजित करने का लक्ष्य रखा है।
उत्तराखंड की धामी सरकार ने प्रदेश के विकास के साथ-साथ युवाओं को रोजगार देने में भी बेहतरीन प्रदर्शन किया है। सरकारी नौकरी देने के मामले में धामी सरकार का प्रदर्शन बेहतरीन है। प्रदेश में न केवल समूह ग की भर्ती, बल्कि अधिकारियों की भर्ती के मामले में भी मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी सरकार ने रिकॉर्ड कायम किया है।
उत्तराखंड लोक सेवा आयोग (यूकेपीएससी) का दावा है कि धामी सरकार ने एक वर्ष के कार्यकाल में 6635 भर्ती की हैं, जबकि पिछले 22 वर्षों के दौरान 6869 भर्तियां ही हुई। अभी तक 3040 अभ्यर्थियों के परीक्षा परिणाम घोषित किए जा चुके हैं, जबकि 3595 अभ्यर्थियों का परीक्षा परिणाम तैयार किया जा रहा है। आयोग ने मई 2024 तक पांच हजार से ज्यादा नए पदों पर भर्ती परीक्षाएं आयोजित करने का लक्ष्य रखा है। आयोग का दावा है कि अफसरों की भर्ती करने में धामी सरकार में छह गुणा रफ्तार बढ़ी है। मुख्यमंत्री धामी ने कड़ी चुनौती और अनेक अड़चनों के बावजूद एक साल में साढ़े छह हजार से अधिक अधिकारियों की भर्ती परीक्षा का रिकार्ड बनाया है।
मुख्यमंत्री धामी ने आयोग में नकल माफियाओं का जाल ध्वस्त करने के बाद देश का सबसे सख्त नकल रोधी कानून बनाया है। इस कानून के बाद से आयोग की परीक्षाओं को और अधिक पारदर्शी व शुचिता के साथ संपन्न कराया जा रहा है।
आयोग से प्राप्त जानकारी के अनुसार जनवरी 2023 से दिसंबर तक 3040 पदों पर अधिकारियों की भर्ती की गई है। जबकि वित्त वर्ष मार्च 2024 तक 6635 पदों पर भर्ती परिणाम जारी करने की तैयारी अंतिम चरण में चल रही है। इसमें सबसे बड़ी भर्ती पीसीएस परीक्षा, वन आरक्षी, समीक्षा अधिकारी समेत अन्य का परिणाम शामिल है।
इसके अलावा विभिन्न विभागों से प्राप्त नई भर्ती के अधियाचन के तहत पांच हजार से ज्यादा पदों पर मई 2024 तक परीक्षाएं कराई जाएंगी। खासकर पीसीएस के रिक्त पदों पर भी इस साल का अधियाचन शासन से मिलना बाकी है। ऐसे में वर्ष 2024 में भी धामी सरकार में अफसरों की बंपर भर्ती की उम्मीद की जा सकती है।

यह भी पढ़ें -  उतराखंड. कड़वी बात : बीजेपी के लिए अबकी बार उत्तराखंड में सरकार बनाने की डगर कठिन ! जेपी नड्डा ने जीत के लिए जरूरी बताए ये तीन काम पूरी खबर पढे


उत्तराखंड की ताजा खबरें पढ़ने के लिए हमसे जुड़ें


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here