मुख्यमंत्री धामी के निर्देश पर पुलिस प्रशासन सुरंग में फंसे मजदूरों से हर घंटे संपर्क स्थापित कर रहा हैं.. उनके परिजनों से भी करा रहा हैं संवाद

मुख्यमंत्री धामी के निर्देश पर पुलिस प्रशासन सुरंग में फंसे मजदूरों से हर घंटे संपर्क स्थापित कर रहा हैं.. उनके परिजनों से भी करा रहा हैं संवाद

लगातार संवेदनशीलता दिखा रहे है मुख्यमंत्री धामी, पुलिस प्रशासन को दिए श्रमिकों से संपर्क बनाए रखने के निर्देश

सुरंग में फंसे श्रमिक महादेव का अपने मामा से बातचीत का ऑडियो आया सामने,, बोले सभी साथी हैं सुरक्षित

 

मुख्यमंत्री धामी के निर्देश : किसी भी कीमत पर श्रमिकों और उनके परिजनों का हौसला नहीं टूटना चाहिए, टनल मे फसे हुए मजदूर भाइयों का उनके परिजनो से कराया जा रहा है संवाद …

 

 

अच्छी खबर : टनल में फंसा हुआ महादेव बोला, मैं और सभी साथी हैं सुरक्षित, मुख्यमंत्री के निर्देश पर निरंतर कायम किया जा रहा है दो-तरफा संवाद

 

सुरंग में फंसे श्रमिक महादेव का अपने मामा से बातचीत का ऑडियो आया सामने,, बोले सभी साथी हैं सुरक्षित

लगातार संवेदनशीलता दिखा रहे है मुख्यमंत्री धामी, पुलिस प्रशासन को दिए श्रमिकों से संपर्क बनाए रखने के निर्देश

सीएम के निर्देश पर श्रमिकों और उनके परिजनों से निरंतर कायम किया जा रहा है दो-तरफा संवाद

 

सिलक्यारा, उत्तरकाशी में निर्माणाधीन टनल में फंसे 40 श्रमिकों को सुरक्षित बाहर निकालने के लिए उत्तराखण्ड सरकार ने पूरी ताकत झोंक दी है। एक ओर देश के नामी विशेषज्ञों के दल को बुलाकर अत्याधुनिक मशीनों से ड्रिलिंग का काम युद्धस्तर पर चल रहा है, वहीं दूसरी ओर सुरंग में फंसे श्रमिकों का मनोबल बनाए रखने के लिए लगातार उनसे बातचीत की जा रही है, उनका परिजनों से भी संपर्क बना हुआ है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने निर्देश दिए हैं कि किसी भी कीमत पर श्रमिकों और उनके परिजनों का हौसला नहीं टूटना चाहिए।
पुलिस प्रशासन सुरंग में फंसे मजदूरों से हर घंटे संपर्क स्थापित कर रहा है। आज टनल में फंसे 22 वर्षीय महादेव की उसके मामा से बातचीत करवाई गई। ऑडियो में महादेव साफ साफ कह रहा है कि वह और उसके साथी अभी तक सुरक्षित हैं। परिजन उनकी सकुशलता को लेकर चिंता न करें। उनके पास पर्याप्त मात्रा में खाद्य सामग्री पहुंच रही है। सभी साथी एक दूसरे का हौसला बढ़ा रहे हैं।
इधर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का कहना है कि संकट के वक्त मनोबल ऊंचा रहना चाहिए। ऊंचे आत्मविश्वास से बड़े से बड़ा संकट टल जाता है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि जितना ज्यादा हो सके सुरंग में फंसे श्रमिकों से संवाद बनाए रहें। सरकार उन्हें सुरक्षित बाहर निकलने के हर संभव प्रयास कर रही है।

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड में चार धाम यात्रा के दृष्टिगत मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों को सुव्यवस्थित और नियमानुसार यात्रा संचालन के निर्देश दिए हैं। *मुख्यमंत्री ने चारों धामों में वीआईपी दर्शन की व्यवस्था को समाप्त करते हुए एक समान व्यवस्था लागू करने के निर्देश दिए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here