आज राज्यपाल महोदय उत्तराखंड के साथ औपचारिक मुलाक़ात में कार्यक्रम क्रियान्वयन विभाग, उत्तराखण्ड के सचिव दीपक कुमार ने शासन के कार्यो का संक्षिप्त विवरण प्रस्तुत किया

आज  राज्यपाल महोदय उत्तराखंड के साथ औपचारिक मुलाक़ात में कार्यक्रम क्रियान्वयन विभाग, उत्तराखण्ड के सचिव दीपक कुमार ने शासन के कार्यो का संक्षिप्त विवरण प्रस्तुत किया

 

 राज्यपाल  जिससे प्रभावित हुए, वो है  मुख्यमंत्री के निर्देश पर शासन के विशेष कार्याधिकारियों द्वारा सतही निरीक्षण, जन्सम्वाद एवं   मुख्यमंत्री     मंत्रीगणोँ द्वारा निरीक्षण व  जन संवाद  व जन चौपाल कार्यक्रम..

अंत में राज्यपाल महोदय ने बताया कि आम जन को सुलभ स्वास्थ्य, शिक्षा, जल व connectivity प्रदान हो जाय तो काफी हद तक समस्यावों का समाधान सम्भव है। इस दिशा में हालांकि  सरकार अच्छा कार्य कर रही है परंतु उपरोक्त विभागों को युध्दस्तर पर कार्यवाही करने की आवश्यक्ता है।

 राज्यपाल महोदय द्वारा मा मुख्यमन्त्री  द्वारा दिये गये दिशा निर्देशों के तहत धरातल पर किये जा रहे निरीक्षणों को अत्यधिक सराहा चाहे वो जिले व मंडल के अधिकारियों द्वारा निरीक्षण हो चाहे सचिव गणों द्वारा

 

परंतु सबसे ज्यादा मा राज्यपाल महोदय जिससे प्रभावित हुए, वो है मा मुख्यमंत्री के निर्देश पर शासन के विशेष कार्याधिकारियों द्वारा सतही निरीक्षण, जन्सम्वाद एवं   मुख्यमंत्री जी    मंत्रीगणोँ द्वारा निरीक्षण व जन्सम्वाद व जन चौपाल

 

 

राज्यपाल महोदय द्वारा पूछे जाने पर जब सचिव द्वारा यह बताया गया कि अद्यतन 19 रिपोर्ट्स मा मंत्रीगण ,का क्रि विभाग को प्रेषित कर चुके हैं व उन पर कार्यवाही भी की जा चुकी है, तो मा राज्यपाल महोदय ने अत्यधिक प्रसन्नता व्यक्त की।

 

राज्यपाल महोदय ने बताया कि मा मुख्यमंत्री जी की ही भान्ति वह भी उत्तराखंड के समस्त सीमान्त जिलों के दुर्गम स्थानों के साथ साथ समस्त जिलों, समस्त विकासखंडों व कुछ ग्रामों में भी भ्रमण कर चुके हैं।

महोदय ने टेलीकॉम connectivity व डाटा सेंटर के बावत भी चर्चा की। सचिव द्वारा बताया गया कि उत्तराखंड का IT विभाग इसका नोडल है व इस दिशा में कार्य भी कर रहा है, फिर भी वह भी सम्बंधित विभाग से इस बावत जानकारी प्राप्त कर मा राज्यपाल महोदय के संज्ञान में लाएंगे।

 

यह भी पढ़ें -  आज मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जनपद चम्पावत में लगभग 103 करोड़ की लागत से विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया।

महोदय को जब यह बताया गया कि कैसे का क्रि विभाग विभिन्न विभागों की योजनाओं का संकलन कर बहुउदेशीय शिविरों के माध्यम से आम जन तक इनका प्रचार प्रसार करेगा तो मा महोदय द्वारा ये बताया गया कि मा महोदय द्वारा भी राज्य में स्थापित 78 केंद्रीय संस्थानोँ के उच्च अधिकारियों द्वारा प्राथमिक रूप से भेंट की गयी है तथा भविष्य में ये संस्थान उत्तराखंड के हित में क्या कार्य कर रहे हैं अथवा कर सकते हैं, का प्रस्तुतीकरण लिया जायेगा। सचिव ने अनुरोध किया कि उन प्रस्तुतीकरणों में का क्रि विभाग को भी आमंत्रित किया जाये तो जो बहुउद्देशीय शिविर लगाये जाएंगे, उनमें इनका भी लाभ आम जन को मिल पायेगा।

 

अंत में राज्यपाल महोदय ने बताया कि आम जन को सुलभ स्वास्थ्य, शिक्षा, जल व connectivity प्रदान हो जाय तो काफी हद तक समस्यावों का समाधान सम्भव है। इस दिशा में हालांकि  सरकार अच्छा कार्य कर रही है परंतु उपरोक्त विभागों को युध्दस्तर पर कार्यवाही करने की आवश्यक्ता है।

सचिव महोदय द्वारा मा महोदय द्वारा समय दिये जाने पर धन्यबाद प्रकट किया गया।

विभाग के कार्यों का सन्छिप्त विवरण:

     कार्यक्रम क्रियान्वयन अनुभाग/विभाग का गठन वर्ष 2009 में मा. मा0 मुख्यमंत्री जी की प्राथमिकताओं में सम्मिलित/चिन्हित कार्यक्रम ’’सरकार जनता के द्वार’’ ’’हमारा संकल्प अनुशासित प्रदेश’’ एवं ’’हमारा संकल्प भयमुक्त समाज’’ के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु किया गया है। विभाग का फील्ड में कोई निदेशालय वर्तमान में नहीं है, मात्र शासन में 01 अनुभाग है।

वर्तमान में किये गये/किये जा रहे कार्य – 

‘‘सरकार जनता के द्वार’’ जिला स्तर/मण्डल स्तर के अधिकारियों द्वारा राजस्व ग्रामों का भ्रमण/रात्रिप्रवास, कर जन-समस्याओं को सुनते हुए निस्तारण किया जाता है। वर्तमान में सभी जनपदों द्वारा जनपदस्तरीय अधिकारियों का रोस्टर निर्धारित करते हुए भ्रमण कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है ।

‘‘हमारा संकल्प अनुशासित प्रदेश’’ मण्डलस्तरीय/जिलास्तरीय अधिकारियों की टीम बनाकर कार्यालयों का निरीक्षण। 

‘‘हमारा संकल्प भयमुक्त समाज’’ अपराधों पर नियंत्रण हेतु जिला मजिस्ट्रेटों द्वारा प्रत्येक माह समीक्षा। 

विभाग को वर्ष 2012-13 के बाद पहली बार इस वित्तीय वर्ष में विभागीय बजट रू0 1000 (टोकन मनी) कार्यक्रम क्रियान्वयन प्रकोष्ठ हेतु स्वीकृत हुई है।  

हमारा संकल्प भयमुक्त समाज कार्यक्रम के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु दिनांक 20.04.2023 को मंडल आईजी/कमिश्नर व पुलिस कप्तानों आदि के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग/बैठक आहूत की गयी।  तीनो संकल्पों के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु मा0 मुख्यमंत्रीजी की अध्यक्षता में समस्त मंडल आयुक्तों/ जिलाधिकारियों/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों के साथ दिनांक 09.06.2023 को बैठक आहूत की गयी।  

तीनों संकल्पों के वर्तमान परिस्थितियों के अनुसार संशोधन हेतु अपर सचिव की अध्यक्षता में समिति का गठन किया गया।  

समस्याओं के ग्राम स्तर पर ही निस्तारण हेतु 08 जनपद प्रभारी मंत्रीगणों द्वारा सरकार जनता के द्वार के तहत भ्रमण किया गया जिसमें सभी मंत्रीगण अभी तक कुल 19 बार भ्रमण हेतु जा चुके हैं। 

कार्यक्रम क्रियान्वयन विभाग के 04 विशेष कार्याधिकारियों द्वारा फरवरी, अप्रैल, जुलाई व अगस्त 2023 माह में कुल 12 जनपदों (उत्तरकाशी को छोडकर) के 56 विकास खण्डों तथा 165 ग्राम पंचायतों का भ्रमण किया गया है।

 

यह भी पढ़ें -  प्रधानमंत्री मोदी के कुशल नेतृत्व में आज भारत की विश्व में अपनी एक अलग पहचान: धामी

सभी मा0 मंत्रीगणों/सचिवों/विशेषकार्याधिकारियों/जनपद स्तर पर भ्रमण करने हेतु गए अधिकारियों को भ्रमण के दौरान प्राप्त मुख्य समस्याओं/शिकायतों/सुझावों एकत्रित करते हुए विभागवार अलग-अलग कर, संबंधित मा0 मंत्रीगणों/विभागाध्यक्षों/जिलाधिकारियों को निस्तारण हेतु प्रेषित की गयी। 

शिकायतों के त्वरित निस्तारण हेतु मण्डल स्तर पर टास्क फोर्स गठित की जा चुकी है तथा संबंधित जिलाधिकारियों को पत्र प्रेषित किये गये हैं। 

 

उत्तराखण्ड में समस्त विभागों द्वारा संचालित समस्त जनकल्याणकारी/स्वरोजगारपरक योजनाओं के संकलन हेतु सभी विभागों के साथ 03 बार बैठक आहूत कर, समस्त योजनाओं का विवरण प्राप्त किया जा रहा है अद्यतन 47 विभागों के साथ बैठक आहूत की जा चुकी है एवं योजनाओं का संकलन प्राप्त किया जा चुका है। 

 

 

प्रस्तावित कार्य 

 

ऽ वैबसाइट का कार्य गतिमान है।

ऽ उत्तराखण्ड में समस्त विभागों द्वारा संचालित समस्त जनकल्याणकारी/स्वरोजगारपरक योजनाओं के संकलन की कार्यवाही गतिमान है।

 

ऽ बहुउददेशीय शिविरों के आयोजन हेतु योजना की कार्यवाही गतिमान है, जिसके उपरांत समस्त जनपदों में प्रति जनपद, प्रतिमाह बहुउददेशीय शिविरों का आयोजन किया जायेगा। 

 

लम्बित कार्य 

 

ऽ प्रकोष्ठ को पुनः सक्रिय/पुर्नजीवित करने के लिए पत्रावली कार्मिक विभाग में लम्बित है। 

 

ऽ अद्यतन विभागीय कार्य अधिसूचित नहीं किये गये हैं, वर्तमान में पत्रावली सचिवालय प्रशासन विभाग/नियोजन में लम्बित है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here