पिथौरागढ पहुंचे कर्नल कोठियाल, युवाओं से कहा मिलकर करेंगे उत्तराखंड नवनिर्माण – आप

 

युवा संवाद में पिथौरागढ पहुंचे कर्नल कोठियाल, युवाओं से कहा मिलकर करेंगे उत्तराखंड नवनिर्माण – आप

युवा संवाद में कर्नल कोठियाल ने पलायन के लिए नीतियों को ठहराया जिम्मेदार,कहा,नीति और नियति हो तो रुक सकता है पलायन – आप

पिथौरागढ़।।

 

 

युवा संवाद के लिए पूरे प्रदेश में युवाओं से सीधी बात करने के लिए आप नेता कर्नल अजय कोठियाल आज पिथौरागढ पहुंचे। पिथौरागढ़ पहुंच कर सबसे पहले उन्होंने, प्रदेश की खुशहाली और उत्तराखंड पुनर्निर्माण के लिए , मां उल्का देवी के दर्शन कर आशीर्वाद लिया। उसके बाद कर्नल कोठियाल ने, शहीद स्मारक जाकर शहीदों को नमन करते हुए अपने श्रद्धासुमन अर्पित किए।

इसके बाद युवा संवाद कार्यक्रम में युवाओं ने बड़े गर्मजोशी से उनका स्वागत किया । युवाओं के जोश को देखते हुए कर्नल साहब ने भी गर्मजोशी से युवाओं से मुलाकात की । अपने संवाद में उन्होंने बताया, पहली बार उन्हें पिथौरागढ़ आने का मौका मिला है,और पिथौरागढ़ में शहीद स्थल पर जाकर शहीदों की शहादत को नमन करते हुए उन्हें ये एहसास हुआ कि उत्तराखंड की माटी कितनी महान है जहां हमेशा वीर योद्धाओं ने जन्म लिया और देश के लिए समय समय पर अपनी कुर्बानी दी ।

युवाओं से बात करते हुए कर्नल कोठियाल ने कहा, उत्तराखंड नवनिर्माण का जो सपना देखा है वो युवाओं के भागेदारी के बिना अधूरा है। इसके अलावा उन्होंने
प्रदेश की प्राकृतिक संपदाओं से लेकर अन्य संपदाओं को बिकने से रोकने के लिए ठोस नीति की पैरवी की । प्रदेश में सशक्त भू कानून की पैरवी करते हुए उन्होंने कहा, भू माफियाओं ने इस प्रदेश की जमीनों को खुर्द बुर्द कर दिया है और अगर अभी भी इस पर लगाम नहीं लगाई गई तो वो दिन दूर नहीं जब पहाडो से लेकर बर्फ से ढके हिमालय भी इन माफियाओं द्वारा बेचे जाएंगे ।
उन्होंने, उत्तराखंड के लोगों के सुरक्षित भविष्य के लिए सशक्त भू कानून की पैरवी को बेहद जरूरी बताया जिसके लिए आप पार्टी लगी हुई है ।

यह भी पढ़ें -  पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के खिलाफ कांग्रेस के यह तीन नेता कर रहे थे दुष्प्रचार पार्टी ने दिखाया बाहर का रास्ता

इस दौरान उन्होंने युवाओं के कई सवालों के जवाब बेबाकी से दिए। पलायन पर बोलते हुए उन्होंने कहा,आज उत्तराखंड के युवाओं की मजबूरी के साथ पलायन यहां के लोगों की जिंदगी में नासूर की तरह घुस चुका है ।उन्होंने कहा, पहाडों में मूलभूत सुविधाओं के अभाव में आज युवाओं को मजबूरन पलायन करना पड़ रहा है ,अगर सरकार सभी व्यवस्थाएं पहाड़ों में कर दे तो ,कोई भी अपने गांवों को छोड़कर पलायन को मजबूर नहीं होगा। उन्होंने सरकार पर सवाल उठाते हुए कहा,यह सरकारों की खामियां हैं ,जो हमारे प्रदेश के युवा भुगत रहे हैं । उन्होंने कहा कि मूलभूत सुविधाओं की वजह से पलायन हो रहा है ,लेकिन अगर यही मूलभूत सुविधाएं पहाड़ों में दे दी जाएं ,तो शायद पलायन पर लगाम लग सकती है और आम आदमी पार्टी की सरकार अगर बनती है तो, जिस तरह दिल्ली में आम आदमी पार्टी ने काम करके दिखाया है ,उसी तरह उत्तराखंड में भी आम आदमी पार्टी जनता की उम्मीदों पर खरा उतरेगी।

उन्होंने कहा कि आज गढवाल और कुंमाउ दोनों ही मंडल के कई गांव पलायन से जूझ रहे हैं। गढ़वाल क्षेत्र के लोग आज देहरादून की ओर पलायन ,जबकि कुमाऊं क्षेत्र के हल्द्वानी की ओर पलायन कर रहे हैं। जिसके लिए उन्होंने सीधे तौर पर सरकारों की कमियों को वजह बताया।

मुफ्त बिजली पर बोलते हुए कर्नल कोठियाल ने कहा, यहां के लोगों को फ्री बिजली मिलना इनका अधिकार है। इसलिए आम आदमी पार्टी सत्ता में आते ही प्रत्येक परिवार को 300 यूनिट बिजली प्रतिमाह, हर परिवार को देगी । उन्होंने कहा,दिल्ली में खरीद कर जब जनता को बिजली फ्री दी जा सकती तो उत्तराखंड में तो बिजली पैदा होती है । यहां के लोगों को भी फ्री बिजली मिलना उनका अधिकार है ।

यह भी पढ़ें -  मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने मुख्यमंत्री आवास में जनपद हरिद्वार में राजकीय विद्यालय अंगीकरण कार्यक्रम का शुभारम्भ किया

 

उन्होंने कहा कि उत्तराखंड की जनता बहुत ही समझदार है वो अब किसी के बहकावे में नहीं आने वाली है। आज जनता काम पर यकीन करती है और आप पार्टी की पहचान उसका काम है। जैसे दिल्ली में काम करके दिखाया वैसे ही उत्तराखंड में सरकार बनते ही काम होंगे। जनता उनपर पूरा विश्वास रखे। उन्होंने आगे कहा की जनता के बीच में जाकर झूठे वादे करना बीजेपी और कांग्रेस के लोग कर सकते हैं ,लेकिन आम आदमी पार्टी इन सबसे अलग है जैसे दिल्ली में अरविंद केजरीवाल जी ने काम के नाम पर वोट मांगा ,वैसा ही विश्वास उत्तराखंड के लोगों को दिलाना आम आदमी पार्टी का मकसद है।

उन्होंने कहा कि आज युवाओं में नशे की प्रवृत्ति बढ़ती जा रही है ,और कहीं ना कहीं इसके पीछे सरकार की कुरीतियां हैं, अगर सरकार की नीतियां ठीक होती ,तो यहां के युवक नशे पर ध्यान ना लगाते हुए ,रोजगार और अपनी पढ़ाई पर ध्यान लगाते ,लेकिन सरकार रोजगार और पढ़ाई दोनों को दिलाने में नाकाम ही साबित हुई है, उन्होंने आगे कहा कि युवाओं को दिशा और रोजगार देना बहुत जरूरी है, ताकि प्रदेश के युवा दिशाहीन ना हो और वह नशे की तरफ ना जा सकें।



उत्तराखंड की ताजा खबरें पढ़ने के लिए हमसे जुड़ें


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here