स्टेट नर्सिंग कॉलेज की 50 छात्राओं में हुई कोरोना की पुष्टि, कॉलेज की अन्य छात्राओं और फेकल्टी में दहशत का माहौल

स्टेट नर्सिंग कॉलेज की 50 छात्राओं में हुई कोरोना की पुष्टि, कॉलेज की अन्य छात्राओं और फेकल्टी में दहशत का माहौल

 

राज्य में कोरोना के मामलों में लगातार इजाफा हो रहा है जिसको लेकर जहां निजी संस्थाओं और आम आदमी के लिए सरकार ने नियम और कानून बनाए हैं लेकिन यह कानून सरकारी संस्थानों पर लागू नहीं होते लगातार सरकारी कार्यालयों में कर्मचारी अधिकारी कोरोना पॉजिटिव आ रहे हैं लेकिन उसके बावजूद भी कार्यालयों को सनराइज कराने के बजाए बड़ी घटना का इंतजार किया जा रहा है बीते रोज स्वास्थ्य महानिदेशालय में चार कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव आए लेकिन उसके घंटों बाद भी वहां पर ना कर्मचारियों के सैंपल कलेक्ट किए गए और ना ही वहां कोई सैनिटाइजेशन हुआ राजधानी देहरादून के स्टेट नर्सिंग कॉलेज के भी हालात कुछ इसी तरीके के दिखाई दिए जहां बीते रोज 50 छात्राएं कोरोना पॉजिटिव पाई गई इसके बाद उन्हें अलग-अलग कोविड केयर सेंटर में भर्ती कराया गया जबकि वहां पढ़ने वाली तमाम छात्राएं व फैकल्टी अभी भी दहशत में काम करने को मजबूर हैं छात्राएं व फैकल्टी लगातार कॉलेज प्रशासन से छुट्टी घोषित किए जाने की मांग कर रही है लेकिन कॉलेज प्रशासन इसके बजाय वहां कॉलेज संचालित कर आ रहा है ऐसे में आला अधिकारियों को भी संज्ञान लेने की जरूरत है जिससे कि कोविड का कहर और लोगों तक ना पहुंचे।

यह भी पढ़ें -  मंत्री डा. प्रेमचंद अग्रवाल ने प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखा है पत्र के जरिए मंत्री अग्रवाल ने पीएम से प्रत्येक वर्ष 22 जनवरी को श्रीराम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा महापर्व की वर्षगांठ मनाने का आग्रह किया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here